दुर्घटना के बाद जिंदा थे जनरल बिपिन रावत, मांग रहे थे पानी!, घटनास्थल पर ग्रामीण ने जो कहा उसे सुन आप…

0
126

[ad_1]

डेस्क: बीते बुधवार का दिन देश के लिए काला दिन साबित हुआ, क्योंकि, देशवासियों ने एक हीरे को खो दिया, बता दे की तमिलनाडु के कुन्नूर में हुए हेलीकॉप्टर क्रैश (Coonoor Helicopter crash) की घटना देशवासियों को झकझोर कर रख दिया, क्योंकि उसी हेलीकॉप्टर हादसे में देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टॉफ (CDS) जनरल बिपिन रावत  और उनकी पत्नी मधुलिका रावत समेत 13 लोग शहीद हो गए।

बता दे की हादसे को लेकर जांच शुरू हो गई है और इस दुर्घटना से संबंधित बहुत सारी बाते भी सामने आ रही हैं, हेलीकॉप्टर हादसे के बाद कई लोग सामने आए जो घटना स्थल पर पहुंचे थे और इनमें से कई लोगों ने CDS बिपिन रावत को देखा भी था, ऐसे ही एक चश्मदीद ने हैरान करने वाला खुलासा किया है, शख्स का कहना यह की उसने बिपिन रावत को देखा था लेकिन वह उन्हें काफी पहचान नहीं सका था, उन्होंने यह भी कहा की वह बुरी तरह से घायल थे और वह पानी मांग रहे थे।

चश्मदीद युवक शिवकुमार ने जो बताया उसे सुन आप भी रो पड़ेंगे, उन्होंने कहा कि “वह नीलगिरी की पहाड़ियों पर अपने भाई से मिलने गए थे जो कि चाय के बागान पर काम करता है, तभी उन्होंने देखा कि एक हेलीकॉप्टर जिसमें आग लगी हुई थी और वह नीचे गिर रहा था, आगे उन्होंने कहा कि इलाके में पहुंचना बेहद मुश्किल था इसी दौरान उन्होंने देखा की हेलीकॉप्टर से जलते हुए तीन बॉडी नीचे गिरी, जब वह घटना स्थल पर पहुंचे तो उन्होंने देखा कि कि दो बॉडी हेलीकॉप्टर के बाहर पड़ी हुई थी, दोनों ही बॉडी बुरी तरह से जल गई थीं।

उन्होंने बताया कि किसी भी शख्स को बचाना मुश्किल हो रहा था, एक आदमी उसमें जिंदा था, हम लोगों ने उससे कहा कि सब ठीक हो जाएगा हम लोग मदद के लिए आए हुए हैं, उस आदमी मतलब ‘बिपिन रावत’ ने हम लोगों से पीने के लिए पानी मांगा था, लेकिन उन्हें देने के लिए हमारे पास पानी नहीं था, इसके बाद एक टीम उन्हें लेकर चली गई, बाद में जब मुझे फोटो दिखाई गई तो हमें पता चला की वह CDS बिपिन रावत थे जो कि हमसे पानी मांग रहे थे।

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here