बिहार में बनेगा देश का दूसरा तैरता सीएनजी स्टेशन, गंगा नदी में एक साथ 1000 नावों को मिलेगा ईंधन, जानिए

0
257

[ad_1]

डेस्क: वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए बिहार सरकार लगातार विभिन्न क्षेत्रों में सीएनजी बसों को बढ़ावा दे रही है, साथ ही उन्हीं क्षेत्रों में नए सीएनजी स्टेशनों का निर्माण कर रही है जहां वाहन चलाया जा रहा है. ताकि ट्रेन की रफ्तार पर ब्रेक न लग सके, इसी बीच राज्य सरकार ने एक अनोखा सीएनजी स्टेशन खोलने का फैसला किया है, तो आइए आपको विस्तार से बताते हैं।

दरअसल, अगले कुछ दिनों में राजधानी पटना में तैरता सीएनजी स्टेशन देखने को मिलेगा, जी हां आपने सही सुना, राजधानी पटना में दीघा घाट, बांस घाट और गाय घाट के किनारे यह अनोखा स्टेशन बनाया जा सकता है. राजधानी में नदी के किनारे नावों से होने वाले वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए बेहतरीन पहल काफी कारगर साबित हो सकती है. जानकारी के अनुसार, दीघा घाट से फतुहा तक 1000 से अधिक लोग संचालित होते हैं, जिनमें से अधिकांश गांव में डीजल से चलते हैं, जो सीधे वायु प्रदूषण को चुनौती दे रहा है। नाव पर सीएनजी स्टेशन खोलने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए सबसे पहले नावों को सीएनजी में बदलना होगा, अब हजारों नाव संचालकों को भी कम लागत से आर्थिक लाभ मिलेगा।

[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here