मुंगेर के गंगा घाट पर होगा भव्य रिवर फ्रंट का निर्माण, बदलेगा बिहार के 12 गंगा घाटों का स्वरूप, जानें

0
489

[ad_1]

डेस्क: योग की नगरी मुंगेर के दिन अब खूबसूरत होने वाले हैं, ऐसा इसलिए है क्योंकि अब जल्द ही शहर का नजारा बदलने वाला है, अगर आप कहें तो गंगा घाटों की तस्वीरें बदलने वाली हैं, क्योंकि अधिकांश मुंगेर गंगा घाट के बगल में स्थित है। अब अगले कुछ दिनों में गंगा की साफ हवाओं के बीच शहरवासी सुबह-शाम सैर कर सकेंगे. क्योंकि केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही नमामि गंगे योजना के तहत शहरी क्षेत्र के 12 गंगा घाटों पर मुंबई में मरीन ड्राइव की तर्ज पर रिवर फ्रंट का निर्माण किया जा रहा है.

बता दें कि इस योजना के तहत गंगा घाटों के सौंदर्यीकरण का काम शुरू हो गया है, जिसमें शहर के प्रसिद्ध बबुआ घाट और दोमाथा घाट पर सीढ़ियों के निर्माण के साथ ही पहुंच मार्ग की मरम्मत की गई है. लेकिन तकनीकी कारणों से योजना को ठंडे बस्ते में डाल दिया गया है। जानकारी के मुताबिक इसके लिए फिर से प्रशासनिक कवायद शुरू हो गई है. वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री अश्विनी कुमार चौबे ने इस योजना को लेकर जिला प्रशासन द्वारा की जा रही कवायद की जानकारी जिलाधिकारी से ली और कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिये.

हालांकि हो की राजधानी पटना के बाद मुंगेर में रिवर फ्रंट भी बनाया जाएगा। योजना के तहत शहर के 12 गंगा घाटों का चयन किया गया है। रिवर फ्रंट योजना के तहत गंगा घाट के पास पैदल पथ और खूबसूरत पार्क बनाए जाएंगे। योजना के पहले चरण में शहर के गंगा घाटों को दूसरे चरण से जोड़ा जाएगा. घाट के साथ ट्रैक का विस्तार होगा। इसमें शहर के अलावा गांव के घाटों को भी जोड़ा जाएगा।

[ad_2]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here