45% बर्न इंजरी के साथ लाइफ सपोर्ट पर है ग्रुप कैप्टेन Varun Singh – वेलिंग्टन से बैंगलोर किए गए शिफ्ट

0
118

[ad_1]

डेस्क : बीते बुधवार को इंडियन एयर फोर्स के एम आइ सीरीज के हेलीकॉप्टर से एक बेहद ही दुखद दुर्घटना हो गई। इस दुर्घटना की वजह से भारत ने बेहद ही दिग्गज आईएफ के अधिकारीयों को खो दिया। बता दें कि इसमें सीडीएस बिपिन रावत भी मौजूद थे।

जैसे ही मौत की खबर लोगों को पता चली तो पूरे देश में शोक की लहर दौड़ गई। ज्यादा जानकारी के लिए बता दें कि यह हेलीकॉप्टर तमिलनाडु के कुन्नूर से बिपिन रावत को और उनकी पत्नी को ले जा रहा था। ऐसे में जब कुन्नूर जिले से हेलीकॉप्टर ने उड़ान भरी तो मात्र कुछ मीटर ऊपर उठते ही वह क्रैश हो गया और अंदर बैठे सभी अधिकारी बुरी तरह जल गए।

Helicopter Crash

ऐसे में सिर्फ एक अधिकारी जिनका नाम वरुण सिंह है उनकी ही सांसें चल रही हैं। बताया जा रहा है वह 45 परसेंट जले हैं उनकी स्थिति इस वक्त नाजुक बनी हुई है और उनका इलाज वेलिंग्टन के मिलिट्री अस्पताल में चल रहा था लेकिन अब उनको बेंगलुरु कमांड अस्पताल में शिफ्ट किया जाएगा।

बिपिन रावत इंडियन एयरफोर्स के अधिकारियों के साथ वॅलिंटों के डिफेंस सर्विसेज स्टाफ कॉलेज में जाने वाले थे लेकिन किसी कारणवश उनका हेलीकॉप्टर कुन्नूर में दुर्घटनाग्रस्त हो गया। यह जानकारी खुद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज राज्यसभा में दी है। इस घटना के दौरान जो नुकसान हुआ, उससे पूरा देश गमगीन है।

How Group Capt Varun Singh, the lone survivor of IAF chopper accident, once  saved LCA Tejas from crashing

रक्षा मंत्री का कहना है कि जब हेलीकॉप्टर में आग लगी थी तो कई जंगल के आसपास रह रहे लोग दूर से भागते हुए नजर आए और उन्होंने हेलीकॉप्टर में लगी आग को देखा तो तुरंत हरकत में आकर लोगों को बचाने की कोशिश की। वह लोग पानी और कंबल लाकर हेलीकॉप्टर की आग को बुझा रहे थे। थोड़ी देर में उन लोगों ने स्ट्रेचर की मदद से सभी लोगों को जंगल से बाहर निकाला। उसके बाद क्रैशिंग साइट से सभी अधिकारियों को वॅलिंटन अस्पताल भेजा गया ज्यादा जानकारी के लिए बता दें कि इस वक्त ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह लाइफ सपोर्ट पर चल रहे हैं।

[ad_2]

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here